PM Vishwakarma Yojana | प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना से सम्बन्धित जानकारी जैसे : फॉर्म (Form), पात्रता (Eligibility), लाभ (Benefits), आवेदन के लिये आवश्यक दस्तावेज (Needful / Required Documents) कौन-कौन से चाहिये, आवेदन कहाँ करे (Where to Apply), कैसे आवेदन करे (How to Apply), लोन के लिए अप्लाई कैसे करे,  Official Website सारी जानकारी प्राप्त करे|

PM Vishwakarma Yojana

Table of Contents

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना का विवरण

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 17 सितम्बर 2023 को विश्वकर्मा दिवस पर प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना की शुरुआत की गई। प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना का उद्देश्य है पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों को उनके उत्पादों (Products) और सेवाओं (Services) को बढ़ाने के लिए चिन्हींत कर उनके कौशलों को निखारने के लिए उपयुक्त प्रशिक्षण की व्यवस्था भी की जाएगी। साथ ही,  उनकी क्षमता और उत्पादकता को बढ़ाने के लिए आधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल करना सिखाया जाएगा। इच्छुक लाभार्थियों को बिना किसी सिक्युरिटी के ऋण और ब्याज छूट के साथ ऋण प्रदान करने का प्रावधान होगा। इस योजना के तहत, कारीगरों और शिल्पकारों को ‘विश्वकर्मा’ के रूप में मान्यता दी जाएगी और उन्हें योजना के तहत सभी लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र बनाया जाएगा।

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

पीएम विश्वकर्मा पोर्टल पर लाभार्थियों को पंजीकरण के लिए निम्नलिखित दस्तावेज आवश्यक है :-

  • राशन कार्ड
  • बैंक डायरी
  • आधार कार्ड
  • पेन कार्ड
  • 2 फोटो
  • मोबाइल नंबर

विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना के लिए अनिवार्य योग्यता (Eligibility)–

आवेदक निम्नलिखित 18 पारंपरिक व्यवसायों में से कारीगर या शिल्पकार, पीएम विश्वकर्मा के तहत 18 वर्ष से 40 वर्ष तक के युवा अपना पंजीकरण करवा सकते हैं :-

केटेगरी :-

  1. बढ़ई (सुथार),
  2. नाव निर्माता,
  3. कवच बनाने वाला,
  4. लोहार (लोहार),
  5. हथौड़ा और टूल किट निर्माता,
  6. ताला बनाने वाला,
  7. सुनार,
  8. कुम्हार,
  9. मूर्तिकार (मूर्तिकार/ पत्थर तराशने वाला), पत्थर तोड़ने वाला,
  10. मोची (चर्मकार)/ जूता बनाने वाला/फुटवियर कारीगर,
  11. मेसन (राजमिस्त्री),
  12. टोकरी निर्माता/ टोकरी वेवर/ चटाई निर्माता/ कॉयर बुनकर/ झाड़ू निर्माता,
  13. गुड़िया और खिलौना निर्माता (पारंपरिक),
  14. नाई,
  15. माला निर्माता (मालाकार),
  16. धोबी,
  17. दर्जी और
  18. मछली पकड़ने का जाल निर्माता।
नोट :- परिवार का कोई भी सदस्य सरकारी सेवा में कार्यरत नहीं होना चाहिए, आवेदक के परिवार का सदस्य राजकीय सेवा में कार्यरत होने पर आवेदक अपात्र होगा।

विश्वकर्मा योजना की घोषणा

 प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना की घोषणा प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 15 अगस्त 2023 को की गयी।

PM Vishwakarma योजना का प्रकार

 प्रधानमंत्री विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना भारत सरकार द्वारा संचालित योजना है|

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना प्रारम्भ की तिथि

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 17 सितम्बर 2023 को विश्वकर्मा दिवस पर प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना की शुरुआत की गई।

विश्वकर्मा योजना का बजट

विश्वकर्मा योजना के तहत केंद्र सरकार 18000 करोड़ का बजट रखा गया है|

Vishwakarma योजना के लाभ

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के साथ निम्नलिखित फायदे जुड़े हुए हैं।

मान्यता :- 

प्रधानमंत्री कौशल सम्मान विश्वकर्मा योजना के तहत लाभार्थी को एक प्रमाण पत्र और आईडी कार्ड मिलेगा। जिससे पात्र लाभार्थी अपना प्रधानमंत्री विश्वकर्मा प्रमाण पत्र दिखाकर नौकरी/ जॉब के लिए काम ले सकता है।

कौशल (ट्रैनिंग) :-

विश्वकर्मा योजना के तहत ट्रैनिंग वेरीफिकेशन के बाद 5-7 दिन (40 घंटे) का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। इच्छुक उम्मीदवार 15 दिनों (120 घंटे) के प्रशिक्षण के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। 500/- रुपये प्रतिदिन प्रशिक्षण अवधि के दौरान  देय होगा।

टूलकिट के लिए राशि :-

प्रशिक्षण के उपरांत पात्र लाभार्थी को 15,000 रुपये की राशि अपना टूलकिट खरीदने व काम शुरू के लिए दी जाएगी।

ऋण (लोन) सहायता :-

प्रधानमंत्री कौशल सम्मान विश्वकर्मा योजना के पात्र लाभार्थी को पहली बार 1 लाख रूपये का सिक्युरिटी रहित उद्यम विकास ऋण दिया जाएगा, जिसे 18 महीने मे वापस चुकाना होगा और यदि आप पहला लोन समय पर चुका देते हैं तो आपको दूसरी बार 2 लाख रुपये का लोन मिल सकता हैं जिसे 30 महीने में चुकाया जा सकता है। ब्याज दर 5% रहेगी। लोन प्रक्रिया में भारत सरकार द्वारा क्रेडिट गारंटी शुल्क  वहन किया जाएगा|

डिजिटल लेनदेन के लिए प्रोत्साहन :-

यदि लाभार्थी द्वारा डिजिटल तरीके से लेनदेन किया जाता हैं तो हर महीने 1 रुपए प्रति लेनदेन (अधिकतम 100 लेनदेन के लिए) प्रोत्साहन दिया जाएगा।

मार्केटिंग मे सहायता :-
लाभार्थी को व्यापार में वृद्धि के लिए गुणवत्ता प्रमाणन, ब्रांडिंग और प्रचार, ई-कॉमर्स लिंकेज, व्यापार मेले विज्ञापन , प्रचार और अन्य गतिविधियों जैसी सेवाएं प्रदान की जायेगी।

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के लिए आवेदन प्रकिया

नजदीकी CSC केंद्र पर आप प्रधानमंत्री विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना के पंजीकरण करवा सकते हैं।

संबंधित कार्यालय

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के लिए आवेदन पश्चात् तीन चरणों में सत्यापन किया जायेगा|

  1. ग्राम पंचायत या नगर पालिका/ नगर परिषद/ निगम द्वारा प्रथम चरण में सत्यापन किया जायेगा|
  2. द्वितीय चरण में जिला स्तरीय समिति द्वारा जांच और वेरीफाई किया जायेगा|
  3. तृतीय चरण में संबंधित बैंक और MSME द्वारा स्क्रीनिग और स्वीकृत किया जायेगा|

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना से संबंधित नंबर

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना से संबंधित ईमेल

विश्वकर्मा योजना से संबंधित गाईडलाइन​

हम संबंधित दस्तावेजों की प्रदान करते हैं

जानकारी जो आपको चाहिए

किसी भी दस्तावेज के बारे में जानने के लिए हमें एक लाइन लिखे